देश विदेश

Previous123456789...1314Next

सुप्रीम कोर्ट तल्ख शब्दों में कहा- हम केन्द्र की कृषि कानून को रद्द भी कर सकते हैं, और कानून पर रोक लगा दी

Date : 12-Jan-2021

न्यूज डेस्क। किसान आंदोलन और कृषि कानूनों को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है। मंगलवार को आंदोलन और कृषि कानूनों को लेकर सुप्रीम कोर्ट को फैसला सुनाना है। इस दौरान किसान नेता, किसानों के वकील और और केंद्र सरकार के वकील सुप्रीम कोर्ट में मौजूद है। सुप्रीम कोर्ट- हम केन्द्र सरकार की कृषि कानून को समय आने पर रद्द भी कर सकते हैं। फिलहाल हम ऐसा करने जा रहे है, कि हम कृषि कानूनों पर रोक लगाने जा रहे हैं। वही इससे पहले किसानों ने भी कहा था कि वे भी यही चाहते हैं कि केन्द्र सरकार की कृषि कानून बिल वापस हों, क्योंकि किसान इन कृषि कानूनों के पक्ष में नहीं है।

Read this- क्या लंबा खिंचेगा किसान आंदोलन? किसान बोले - सरकार नहीं मानी, तो लोहड़ी के साथ होली भी सिंघु बॉर्डर पर ही मनाएंगे

#supremecourt #farmersprotest #supremecourtonfarmersprotest #supremecourtofindia #chiefjusticeofindia #ndtvlive #supremecourton #farmlaws #farmlaws #supremecourtcasestatus #livelaw #attorneygeneralofindia #supremecourtnews #barandbench #farmbill2020 #farmlawssupremecourt #ashokgulati #abeyancemeaning #farmersbill #dushyantdave #supremecourtonkisanandolan #cjibobde #abeyance #supremecourtjudgement #sconfarmlaws #pramodjoshi

 

क्या लंबा खिंचेगा किसान आंदोलन? किसान बोले - सरकार नहीं मानी, तो लोहड़ी के साथ होली भी सिंघु बॉर्डर पर ही मनाएंगे

Date : 12-Jan-2021
न्यूज डेस्क। केन्द्र सरकार द्वारा लागू किए तीन कृषि बिलो के खिलाफ दिल्ली से सटे सीमाओं पर किसान आंदोलन पर अड़े हुए है। जहां मंगलवार को किसानों के विरोध-प्रदर्शन का सिंघु बॉर्डर पर 48 दिन पूरे हो गए। इस दौरान केंद्र सरकार और किसानों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी है। लेकिन अब तक कोई सार्थक पहल देखने को नहीं मिली है। वही किसानों ने भी दो टूक कह दी है, किसान बोले- सरकार नहीं मानी तो लोहड़ी और होली भी सिंघु बॉर्डर पर मनाएंगे। यहीं वजह है कि अब सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में एंट्री ली है, इसके बाद भी सरकार और किसान अपनी-अपनी बात पर कायम है। 
     यानी अब तक न तो सरकार झुकी है, और न ही किसान अपनी मांगों को लेकर टस से मस हो रहे हैं। वही किसानों के रवैये से बड़े संकेत मिल रहे हैं। वह यह कि ये आंदोलन काफी लंबा खिंच सकता है। क्योंकि कुछ किसानों का कहना है कि अगर केन्द्र सरकार द्वारा उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दिया तो वे लोहड़ी क्या, होली भी सिंघु बॉर्डर पर ही मनाएंगे।
     यह बात उन्होंने समाचार एजेंसी ्रहृढ्ढ से बातचीत के दौरान की है। सिंघु बॉर्डर पर एक प्रदर्शनकारी ने बयान दिया कि अगर सरकार नहीं मानी तो लोहड़ी तो क्या हम (सभी किसान) होली त्योहार भी सिंघु बॉर्डर पर ही मनाएंगे। उन्होंने कहा कि सरकार से कहना चाहते हैं कि किसानों की बातों पर ध्यान दे।
      इधर टिकरी बॉर्डर पर विरोध प्रदर्शन में शामिल एक प्रदर्शनकारी किसान ने कहा कि जितनी उम्मीद सुप्रीम कोर्ट से है, उतनी उम्मीद सरकार से नहीं है। ऐसा इसलिए कहा, क्योंकि अगर सरकार चाहती, तो यह फैसला अब तक हो गया होता। साथ ही भारतीय किसान यूनियन के राजवीर सिंह जादौन ने कहा हम सुप्रीम कोर्ट से अपेक्षा करेंगे कि कानूनों को खत्म करने का आदेश दे और एमएसपी पर कानून बने।
 

#supremecourt #farmersprotest #supremecourtonfarmersprotest #supremecourtofindia #chiefjusticeofindia #ndtvlive #supremecourton #farmlaws #farmlaws #supremecourtcasestatus #livelaw #attorneygeneralofindia #supremecourtnews #barandbench #farmbill2020 #farmlawssupremecourt #ashokgulati #abeyancemeaning #farmersbill #dushyantdave #supremecourtonkisanandolan #cjibobde #abeyance #supremecourtjudgement #sconfarmlaws #pramodjoshi

एयर इंडिया उत्तरी ध्रुव के ऊपर उड़ान भर महिला पायलटों की टीम रचेगी नयी कीर्तिमान

Date : 09-Jan-2021

न्यूज डेस्क। एयर इंडिया की कैप्टन जोया अग्रवाल एक और नयी कीर्तिमान रचने जा रही हैं। इस बार उनकी टीम उत्तरी ध्रुव के उपर उड़ान भरने वाली है। जो अब तक की सबसे बड़ी उपब्धि है। इससे पहले कैप्टन जोया ने एयर इंडिया की सबसे कम उम्र में बोइंग-777 को उड़ाने वाली महिला पायलट भी रह चुकी हैं। उन्होंने साल 2013 में इस उपलब्धि को हासिल किया था। उन्होंने कहा कि मैं दुनिया में बोइंग-777 की सबसे कम उम्र की महिला कमांडर हूं। महिलाओं को खुद पर यकीन करना चाहिए।
बताया जा रहा है कि एयर इंडिया की महिला पायलटों की यह टीम दुनिया के सबसे लंबे हवाई मार्ग नॉर्थ पोल यानी उत्तरी ध्रुव पर उड़ान भरने का नयी कीर्तिमान रचने जा रही है। महिला पयलटों की टीम अमेरिका के सैन फ्रांसिस्को शहर से उड़ान भरते हुए यह टीम उत्तरी ध्रुव से होते हुए नौ जनवरी को बेंगलुरु पहुंचेगी और इस दौरान करीब 16 हजार किमी की दूरी तय करेगी।
एयर इंडिया के एक अधिकारी ने बताया कि उत्तरी ध्रुव में उड़ान भरना बेहद चुनौतीपूर्ण है और एयर लाइन कंपनियां इस मार्ग पर अपने सर्वश्रेष्ठ और अनुभवी पायलटों को ही भेजती हैं. इस बार एअर इंडिया ने सैन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु तक के ध्रुवीय मार्ग से यात्रा के लिए एक महिला कैप्टन को जिम्मेदारी सौंपी है। एयर इंडिया की कैप्टन जोया अग्रवाल, जो इस उड़ान की कमान संभालेंगी और उनकी अगुवाई में यह टीम 9 जनवरी को कीर्तिमान रचने के लिए उत्सुकता के साथ इंतजार कर रही है।
मेरे लिए एक स्वर्णिम अवसर: कैप्टन जोया
कैप्टन जोया अग्रवाल ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा दुनिया के ज्यादातर लोगों ने अपने जीवनकाल में उत्तरी ध्रुव या यहां तक कि इसे नक्शे पर भी नहीं देखा होगा। नागरिक उड्डयन मंत्रालय और हमारे फ्लैग कैरियर ने मुझ पर जो विश्वास जताया है। उससे मैं बहुत ही गौरवान्वित महसूस कर रही हूं। बोइंग-777 की सैन फ्रांसिस्को-बेंगलुरु की शुरुआती उड़ान को कमांड करना मेरे लिए एक स्वर्णिम अवसर है। नॉर्थ पोल से होकर गुजरने वाला यह मार्ग दुनिया के सबसे लंबे रूट में से एक है। जोया ने आगे कहा मुझे इस बात का बेहद गर्व है कि मेरे पास अनुभवी महिलाओं की टीम है, जिसमें कैप्टन थनमाई पपागरी, आकांक्षा सोनावने और शिवानी मनहस शामिल हैं। दुनिया में ऐसा पहली बार होगा जब उत्तरी ध्रुव के ऊपर से ऐसी उड़ान होगी, जिसमें सभी पायलट महिलाएं होंगी। यह अपनी तरह का एक नया कीर्तिमान होगा। वास्तव में किसी पेशेवर पायलट के लिए यह सपना सच होने जैसा है।

 

 

Puducherry के कलेक्टर को बोतल में पानी की जगह दिया 'जहर', मचा हड़कंप

Date : 08-Jan-2021

पांडिचेरी केंद्रशासित प्रदेश पुडुचेरी (Puducherry) से एक हैरान करने वाली खबर आ रही है, जहां जिले के कलेक्टर पुरवा गर्ग  (IAS Purva Garg) को एक मीटिंग के दौरान पानी की बोतल में पानी (water) की जगह ‘जहरीला (Poison) तरल पदार्थ’ दे दिया गया ये घटना पुडुचेरी के डीएम पुरवा गर्ग (Purva Garg IAS) के साथ उस वक्त हुई, जब वे एक मीटिंग ले रहे थे ये जहरीला तरल पदार्थ पानी की तरह ही पारदर्शी था

इस घटना के बारे में पुडुचेरी के राजस्व और आपदा प्रबंधन विभाग के विशेष अधिकारी द्वारा नजदीक में स्थित D-नगर पुलिस स्टेशन को एक पत्र लिखकर सूचित किया गया है जिसमें घटना के बारे में बताते हुए जल्द से जल्द कार्रवाई करने की मांग की गई है इस पत्र में लिखा है कि ‘6 जनवरी को करीब 11 बजकर 45 मिनट पर डीएम कार्यालय में एक ऑफिशियल मीटिंग चल रही थी तभी कार्यालय के स्टाफ द्वारा डीएम को पानी की ऐसी बोतल मुहैया कराई गई जिसमें पानी की जगह ‘जहरीला तरल पदार्थ’ था, जो दिखने में पारदर्शी था। पत्र में ये भी लिखा है कि 1 लीटर की ‘स्विस फ्रेश’ नाम के ब्रांड की बोतल को साथ में भेजा जा रहा है, जिसकी जांच करके आवश्यक कार्रवाई की जाए। इसी मसले पर पुडुचेरी की उपराज्यपाल किरण बेदी ने ट्विटर पर लिखा पुडुचेरी के कलेक्टर आईएएस पुरवा गर्ग को उनके कार्यालय में स्टाफ द्वारा एक पानी की बोतल के रूप में पारदर्शी ‘जहरीला’ तरल पदार्थ मुहैया कराया गया इस मामले में FIR रजिस्टर कर ली गई है डीजीपी IPS बालाजी श्रीवास्तव ने इस मामले में विशेष जांच करने के लिए आदेश दे दिया है

बर्ड फ्लू: एमपी में हाई अलर्ट, पॉजिटिव निकले मृत कौवों के सैंपल

Date : 08-Jan-2021

एमपी डेस्क। प्रदेश के खंडवा शहर में सोमवार को मिले मृत कौवों की बर्ड फ्लू रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। यह जांच राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशु रोग प्रयोगशाला की गई है। जिसकी जांच रिपोर्ट में खंडवा सहित इंदौर, नीचम, देवास, उज्जैन, खरगोन और भोपाल में भी बर्ड फ्लू होने का खुलासा किया है। मामले की गंभीरता को ध्यान में देखते हुए अपर सचिव पशु पालन जेएन कंसोटिया ने गुरुवार की देर रात प्रदेश के सभी जिलों के कलेक्टर्स को पत्र जारी किया। वही आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए हैं। साथ ही खंडवा में गुरुवार को भी दो और कौवों के शव मिले है। इधर बर्ड फ्लू की पुष्टि के बाद पक्षियों के शव मिलने वाले स्थानों के आसपास के एक किमी का क्षेत्र संक्रमित जोन घोषित कर दिया है। 
इधर गुरुवार को खंडवा शहर के गणेश तलाई क्षेत्र और छोटा बोरगांव में एक-एक कौवा मृत मिला है। इसके पहले सोमवार को गोलमाल बाबा इलाके में एक कौवा और पांच बगुले मृत मिले थे। इसी एरिया में मंगलवार को भी मृत पक्षी मिले थे। वहीं बुधवार को खेड़ापति हनुमान मंदिर इलाके से 14 कौवें और रामनगर मल्टी से कुछ कौवें मृत बरामद हुए थे। वही सोमवार को मृत मिले कौवें की सैंपल जांच में बर्ड फ्लू की पुष्टि हो गई है। लेकिन पशु चिकित्सा विभाग ने अभी इसकी अधिकृत घोषणा नहीं की है, वही भोपाल से वायरल हो रहे अवर सचिव जेएन कंसोटिया के दिशा निर्देश पत्र में खंडवा सहित सात जिलों में बर्ड फ्लू की पुष्टि कर रही है।
कलेक्टरों को जारी हुआ दिशा निर्देश
अपर मुख्य सचिव पशुपालन जेएन कंसोटिया ने प्रदेश के सभी कलेक्टरों को बर्ड फ्लू की रोकथाम और नियंत्रण करने के दिशा-निर्देश जारी कर दिए है। उन्होंने सभी कलेक्टरों को पशुपालन, वन, स्वास्थ्य, स्थानीय निकाय व अन्य संबंधित विभागों के साथ बैठक कर किसी आपातकालीन परिस्थिति से निपटने के लिए तैयारियों की समीक्षा करने कहा है। वही यह भी कहा गया है कि पशु चिकित्सा विभाग के जिला कार्यालय में कंट्रोल रूम की स्थापना के साथ ही पीपीइ किट की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। सैंपल एकत्र और डिस्पोजल के समय विभागीय अमला अनिवार्य रूप से पीपीइ किट पहने।
पक्षियों की होगी सैंपलिंग
उपसंचालक पशु पालन डॉ. राजू रावत ने बताया कि बर्ड फ्लू की पुष्टि होने पर संक्रमित क्षेत्रों के एक किमी के दायरे को रेड जोन घोषित किया जाएगा। यहां पशु चिकित्सा विभाग और स्वास्थ्य विभाग सर्वेलांस टीमें लगाने की तैयारी पूरी हो गई है। संक्रमित क्षेत्र में कौवों सहित अन्य पक्षियों की बीट के सैंपल एकत्रित किया जाएगा। इसके अलावा पोल्ट्री फार्मों में भी निरीक्षण कर सैंपल लिए जाएंगे। जहां बीमार मुर्गे, मुर्गियों को नष्ट भी किया जाएगा। वहीं, सुंक्रमित क्षेत्रों में रहने वाले लोगों के स्वास्थ्य की जांच भी की जाएगी। उन्होंने लोगों से अपील की है कि मृत पक्षी मिलने पर उससे दूर रहे और तुरंत पशु चिकित्सा विभाग को सूचना दें।
बर्ड फ्लू रोग के लिए रेपिड रिस्पोंस टीम भी गठित
बर्ड फ्लू रोग से निपटने के लिए पशुचिकित्सा सेवा विभाग ने रेपिड रिस्पोंस टीम का गठन किया गया है। उप संचालक पशु चिकित्सा डॉ. राजू रावत ने बताया कि इस टीम में पशु चिकित्सकों व सहायक पशु चिकित्सा क्षेत्र अधिकारियों को शामिल किया गया है। इन दलों के अधिकारी कर्मचारियों को एवियन इन्फ्लूएंजा 2015 के दिशा निर्देश अनुसार रोग नियंत्रण संबंधी कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए है। वही जारी आदेश में वन मंडल अधिकारी को निर्देश दिए गए है, वे वन विभाग के अमले को पशु चिकित्सा विभाग के अमले के सहयोग के लिए निर्देशित करें।

 

#BirdFlue

Bird_Flu_Alert: जानिए कहां कितने मामले आए सामने

Date : 07-Jan-2021

नितिन ठाकुर @ न्यूज़ डेस्क:

Bird Flu Alert: Corona महामारी के बीच देश में Bird Flu का खतरा बढ़ता जा रहा है। मध्य प्रदेश और हिमाचल के बाद अब राजस्थान से ऐसी की खबर आई है। यहां बड़ी संख्या में कौवे मृत पाए गए हैं। झालावाड़ जिले में सबसे पहले केस सामने आने के बाद जांच की गई, तो खतरनाक वायरस (VIRUSE) (VIRUSE) का पता चला। इसके बाद जयपुर समेत अन्य जिलों से भी ऐसे केस सामने आए हैं। प्रदेश के पशुपालन मंत्रालय ने राज्य स्तर का कंट्रोल रूम बनाया है।

पढ़ने के लिए क्लिक करें ____ https://janmudda.com/article-view.php?pathid=2&article=731 

राजस्थान में अब तक 250 कौवे मृत

राजस्थान में अब तक Total 250 कौवे मृत पाए गए हैं। बता दें, इससे पहले MP और हिचमाल में बर्ड फ्लू (Bird Flu) की पुष्टि हो चुकी है। झारखंड सरकार भी एडवाइजरी जारी कर चुकी है।

मध्य प्रदेश में बर्ड फ्लू (Bird Flu)

मध्य प्रदेश के इंदौर में कौवों की मौत से हड़कंप है। इसके बाद मंदसौर के कोर्ट परिसर में 200 कौवे मृत पाए गए। उज्जैन से भी ऐसी की खबर है।

हिमाचल प्रदेश में (Bird Flu):

3 जनवरी को खबर आई थी कि हिमाचल प्रदेश की पोंग डैम सेंक्चुरी में 1700 प्रवासी पक्षियों की संदिग्ध मौत हो गई है। अधिकतर पक्षियों की मौत धामेटा और नगरोटा सूरियां वन क्षेत्रों के जगमोली और गुगलाडा इलाकों में दर्ज की गई है। आशंका है कि इन पक्षियों की मौत एवियन फ्लू (बर्ड फ्लू) Bird Flu से हुई है।

क्या इन्सानों तक भी पहुंच सकता है Bird Flu?

एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस (VIRUSE) H5N1 को बर्ड फ्लू का सबसे बड़ा कारण माना जाता है। यह वायरस (VIRUSE) पक्षियों के साथ ही इन्सानों के लिए भी खतरनाक होता है। इन्सानों में इसके लक्षण बेहद सामान्य होते हैं- जैसे सर्दी, जुकाम, सांस में तकलीफ और बार-बार उल्टी आना। यही कारण है कि कई लोग इसके शिकार होते हैं, लेकिन उन्हें अहसास भी नहीं होता है। किसी भी तरह के वायरस (VIRUSE) के बचाने का पहला तरीका यही है कि अपनी इम्यूनिटी (EMYUNITY)  यानी बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ाई जाए। मसलन इंदौर में भी कौवों को पानी में दवा मिलाकर पिलाई जा रही है, ताकि उनकी इम्यूनिटी (EMYUNITY) बढ़ाई जा सके।

Bird Flu Alert: जानिए क्यों होता है Bird Flu और इन्सानों के लिए कितना Danger

Date : 07-Jan-2021

नितिन ठाकुर @ न्यूज़ डेस्क:
Bird Flu Alert
: Corona महामारी के बीच देश में Bird Flu का खतरा बढ़ता जा रहा है। मध्य प्रदेश और हिमाचल के बाद अब राजस्थान से ऐसी की खबर आई है। यहां बड़ी संख्या में कौवे मृत पाए गए हैं। झालावाड़ जिले में सबसे पहले केस सामने आने के बाद जांच की गई, तो खतरनाक वायरस (VIRUSE) का पता चला। इसके बाद जयपुर समेत अन्य जिलों से भी ऐसे केस सामने आए हैं। प्रदेश के पशुपालन मंत्रालय ने राज्य स्तर का कंट्रोल रूम बनाया है।

Bird_Flu_Alert: जानिए कहां कितने मामले आए सामने- https://janmudda.com/article-view.php?pathid=2&article=732

क्या इन्सानों तक भी पहुंच सकता है Bird Flu?

एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस (VIRUSE) H5N1 को बर्ड फ्लू का सबसे बड़ा कारण माना जाता है। यह वायरस (VIRUSE) पक्षियों के साथ ही इन्सानों के लिए भी खतरनाक होता है। इन्सानों में इसके लक्षण बेहद सामान्य होते हैं- जैसे सर्दी, जुकाम, सांस में तकलीफ और बार-बार उल्टी आना। यही कारण है कि कई लोग इसके शिकार होते हैं, लेकिन उन्हें अहसास भी नहीं होता है। किसी भी तरह के वायरस (VIRUSE) के बचाने का पहला तरीका यही है कि अपनी इम्यूनिटी (EMYUNITY)  यानी बीमारियों से लड़ने की क्षमता बढ़ाई जाए। मसलन इंदौर में भी कौवों को पानी में दवा मिलाकर पिलाई जा रही है, ताकि उनकी इम्यूनिटी (EMYUNITY) बढ़ाई जा सके। इससे बचने के लिए साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। कोई भी लक्षण दिखाई दे तो डॉक्टर को दिखाएं। 

इलेक्ट्रिक ट्रैक पर पहली बार दौड़ी 1.5 km लंबी मालगाड़ी, प्रधानमंत्री Modi दिखाई हरी झंडी

Date : 07-Jan-2021

दिल्ली। देश में आज पहली बार इलेक्ट्रिक ट्रैक पर 1.5 किलोमीटर लंबी मालगाड़ी ने दौड़ लगाई। प्रधानमंत्री Narendra Modi अब से कुछ देर पहले वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर (Western Dedicated Freight Corridor) के रेवाड़ी-मदार खंड सहित इलेक्ट्रिक ट्रैक्शन द्वारा चलने वाली 1.5  KM लंबी world की पहली Double स्टैक लॉन्ग हॉल कंटेनर ट्रेन को हरी झंडी दिखाई है। प्रधानमंत्री Narendra Modi ने सुबह 11 बजे वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लेकर इस ट्रेन को देश को समर्पित किया। कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल के साथ राजस्थान और हरियाणा के राज्यपाल और Chif-minister भी शामिल थे। इस अवसर में अपने संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि देश के इंफ्रास्ट्रक्चर को आधुनिक बनाने के लिए चल रहे महायज्ञ ने आज एक नई गति हासिल की है। बीते दिनों आधुनिक Digital Infrastructure के माध्यम से किसानों के खातों में सीधे 18,000 करोड़ रुपये से ज्यादा Transfer किए गये हैं। New अटेली से New किशनगढ़ तक 1.5 KM लंबी मालगाड़ियों की शुरुआत के साथ आज भारत दुनिया के गिने चुने देशों में अपनी उपस्थिति दर्ज करा रहा है।

PM Modi ने कहा कि आज का दिन NCR, हरियाणा और राजस्थान के किसानों, उद्यमियों, व्यापारियों के लिए नए अवसर लाया है। डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर चाहे ईस्टर्न हो या वेस्टर्न ये सिर्फ मालगाड़ियों के लिए आधुनिक रुट नहीं हैं।ये देश के तेज विकास के कॉरिडोर हैं।

इससे पहले PM Modi ने एक ट्विट कर लिखा था कि बिजली के कर्षण पर चलने वाली कंटेनर ट्रेन में दुनिया का पहला डबल स्टैक लॉन्ग हॉल 1.5 किमी रवाना किया जाएगा. यह फिर से आर्थिक गतिविधियों को लाभान्वित करेगा और कई नागरिकों के लिए समृद्धि सुनिश्चित करेगा.

जानिए किसे कहते हैं DFC कॉरिडोर

दरअसल DFC कॉरिडोर कुशल माल परिवहन प्रणाली के लिए इस्तेमाल किया जाता है। वर्तमान में हरियाणा और महाराष्ट्र को जोड़ने वाले पश्चिमी DFC और पंजाब और पश्चिम बंगाल को जोड़ने वाले पूर्वी DFC निर्माणाधीन हैं। आज प्रधानमंत्री ने जिस इलेक्ट्रिक ट्रैक की शुरुआत की है, उसकी संयुक्त लंबाई लगभग 2,843 किमी है। उत्तर-दक्षिण (दिल्ली-तमिलनाडु), पूर्व-पश्चिम (पश्चिम बंगाल-महाराष्ट्र), पूर्व-दक्षिण (पश्चिम बंगाल-आंध्र प्रदेश) और दक्षिण-दक्षिण (तमिलनाडु-गोवा) DFC की योजना बनाई जा रही है।

औद्योगिक इकाइयों को होगा फायदा

गौरतलब है कि #Western _Dedicated_Freight_Corridor का न्‍यू रेवाड़ी- मदार खण्‍ड हरियाणा और राजस्‍थान में आता है। इस पूरे कॉरिडोर में 9 नए मालवाहक गलियारा स्‍टेशन हैं। इनमें 3 जंक्‍शन स्‍टेशन न्‍यू रेवाड़ी, न्‍यू अटेली और न्‍यू फुलेरा हैं। रेलगाडियों की आवाजाही शुरू हो जाने से हरियाणा के रेवाडी, मानेसर, नारनौल, फुलेरा और राजस्‍थान के किशनगढ़ की औद्योगिक इकाइयों को काफी फायदा होगा।

वेस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर की ये है खासियत

- कॉरिडोर का इस्तेमाल सिर्फ सामान की ढुलाई के लिए होगा, इसलिए तेजी से माल सप्लाई करने की सुविधा होगी।

- मालवाहक ट्रेनें अधिकतम 100 किलोमीटर की रफ्तार से चलेंगी, बड़ी संख्या में माल भाड़ा और सामान पहुंचाने में मदद मिलेगी।

- उत्तर भारत में मल्डी-मॉडल लॉजिस्टक हब और दिल्ली मुंबई के बीच इंडस्ट्रियल कॉरिडोर जुड़ेंगे, व्यापार में तेजी से बढ़ोतरी होगी।

- इससे राजस्थान के काठूवास में स्‍थ‍ित कॉनकोर के कन्‍टेनर डिपो का भी बेहतर इस्‍तेमाल हो सकेगा

- यह कॉरिडोर गुजरात में स्थित कान्‍डला, पीपावाव, मुंद्रा और दाहेज बंदरगाहों से सामान की ढुलाई को भी आसान बना देगा।

पीएम मोदी ने छ शहरों के लिए लाइट हाउस प्रोजेक्ट की लांच, एक साल में बनेंगे 6 हजार मकान

Date : 01-Jan-2021


नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने साल के पहले दिन 6 शहरों के लिए लाइट हाउस प्रोजेक्ट की शुरुआत की। इस प्रोजेक्ट के तहत देश के 6 शहरों में अगले एक साल में एक-एक हजार घर बनाएंगे जाएंगे। जर्मनी, अमेरिका, फिनलैंड, न्यूजीलैंड जैसे विकसित देशों के तकनीक से बनने वाले ये घर सस्ते, मजबूत भूकंपरोधी तो होंगे ही, इसके बनने में भी कम समय लगेगा. इन घरों के निर्माण खिलौने जैसे ब्लॉक को जोड़कर किया जाएगा, इसे बनाने के लिए दीवार में ईंट गारे का इस्तेमाल भी नहीं होगा।

उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, त्रिपुरा, झारखंड, गुजरात, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के सीएम की वर्चुअल मौजूदगी में पीएम मोदी ने इस परियोजना का उद्घाटन किया। प्रोजेक्ट के तहत एमपी के इंदौर, गुजरात के राजकोट, तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई, झारखंड की राजधानी रांची, त्रिपुरा की राजधानी अगरतला और उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में अगले साल तक एक-एक हजार घर बनाएंगे। इस तरह से मात्र एक साल में 6 हजार मकान बनाए जा सकेंगे।

TRP घोटाले में जांच तेज, रिपब्लिक टीवी के दो और अधिकारियों को भेजा गया समन

Date : 07-Jan-2021

मुंबई: टीआरपी घोटाले (TRP Scam) के मामले में मुंबई पुलिस ने रिपब्लिक टीवी (Republic TV) के दो और लोगों को समन भेजकर पूछताछ के लिए बुलाया है. रिपब्लिक टीवी के एक्जीक्यूटिव एडिटर निरंजन नारायण स्वामी (Niranjan Narayan Swami) और अभिषेक कपूर (Abhishek Kapoor) से आज पूछताछ होगी. वहीं, अर्नब गोस्वामी (Arnab Goswami) को 16 अक्टूबर शाम 4 बजे तलब किया गया है.

टीआरपी घोटाले के आरोपियों की रिमांड बढ़ी

टीआरपी घोटाले के मामले में गिरफ्तार किए गए आरोपियों को कल अदालत में पेश किया गया, जिसके बाद उनकी पुलिस रिमांड 16 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा दी गई है. अब उनसे इंटेरोगेशन में इस मामले से जुड़े और कई खुलासे हो सकते हैं.

16 अक्टूबर को तलब किए गए अर्नब गोस्वामी

मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने अर्णब गोस्वामी के खिलाफ अब चैप्टर प्रोसिडिंग (Chapter Proceedings) के तहत कार्रवाई करते हुए शो कॉज नोटिस भेजा है. अर्णब गोस्वामी को 16 अक्टूबर शाम 4 बजे पेश होकर अपना पक्ष रखने के लिए तलब किया गया है. अर्णब पर अपने डिबेट शो (Debate Show) के ज़रिए धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाकर समाज में कम्युनल हार्मनी के लिए खतरा पैदा करने का आरोप है.

Previous123456789...1314Next